ज्योतिष विद्या के नाम पर करते थे करोड़ों की ठगी, व्यापारी-नेता भी हुए शिकार

0
64

ग्वालियर: ग्वालियर से पुलिस ने एक ऐसे परिवार को गिरफ्तार किया है, जो ज्योतिष विद्या के नाम पर करोड़ों की ठगी करता था। गिरफ्तार किए गए लोगों में पिता, पुत्र और बेटी है। ख़ास बात तो ये है कि ये लोग बड़े-बड़े कारोबारियों से लेकर नेताओं को चूना लगा चुका है। ये परिवार बीते कई महीनों से फरार था और पुलिस को इनकी तलाश थी।

आरोप है कि कथित ज्योतिषाचार्य मनोज शर्मा बेहद शातिर है और वह अब तक शहर के कई बड़े कारोबारियों, डॉक्टर्स, इंजीनियर और नेताओं को करोड़ों का चूना लगा चुका है। ज्योतिषाचार्य का पूरा परिवार इस ठगी में शामिल था और ये लोग तंत्र-मंत्र के जरिए पहले लोगों के घरों में घुसपैठ करते थे और फिर उनकी परेशानियां दूर करने के नाम पर अब तक करोड़ों रूपये की ठगी करते थे।

आरोपी ज्योतिषाचार्य ने एक भाजपा नेता को पहले उसकी परेशानियां दूर करने के नाम पर ठगा। उसके बाद आरोपी ने भाजपा नेता को बालाघाट की खदानों में पार्टनर बनाने के नाम पर 70 लाख रूपये ठग लिए। आरोपियों ने विदेश से लौटे एक इंजीनियर से भी 54 लाख की ठगी की। आरोपी ग्वालियर के तानसेन नगर का निवासी है।

आरोपी और उसका परिवार एक साधारण कांच को तराश कर उसे 11 कैरेज का मोनोजाइट नग बताता था और पीड़ितों को दुख-दर्द दूर करने के लिए उन्हें यह कांच नग बताकर बेचता था और उसे गंगा में बहाने के लिए कहता था। पुलिस को आशंका है कि आरोपियों ने बड़ी संख्या में लोगों को ठगा है और कई लोगों ने इस मामले में शिकायत भी दर्ज नहीं कराई है।

ज्योतिषाचार्य की बेटी पर 10 हजार और बाप-बेटे पर 5-5 हजार रूपये का इनाम घोषित था। आरोपियों के खिलाफ पड़ाव थाना पुलिस में तीन मामले दर्ज हैं। पुलिस ने आरोपियों को उज्जैन से गिरफ्तार किया है। फिलहाल इनसे पूछताछ की जा रही है।

आरोपी ज्योतिषाचार्य मनोज शर्मा की पत्नी वर्षा भी इस धांधली में इसके साथ थी लेकिन अब जब पुलिस ने पिता, बेटे और बेटी को गिरफ्तार किया है। इनका कहना है कि फरारी के दौरान वर्षा की कोरोना से मौत हो चुकी है। हालांकि आरोपी जितना शातिर है, ऐसे में पुलिस इस बात का पता लगाने में जुटी है कि सच में वर्षा की मौत हुई है या फिर आरोपी झूठ बोलकर पुलिस को गुमराह कर रहे हैं।

 

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here