पुलिस की लाठियों से पीटते रहे कार्यकर्ता और आराम से तमाशा देखते रहे नेता

0
825
congress protest

इंदौरः धार्मिक आयोजनों को अनुमति नहीं देने के खिलाफ कांग्रेस ने आज मौन रैली निकाली थी। रैली की शुरुआत तो मौन रैली के रूप में हुई, लेकिन कुछ देर बाद नारेबाजी शुरू हो गई। कलेक्ट्रेट पहुंचने के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बेरिकेटिंग्स तोड़कर आगे बढ़ने की कोशिश की, तो पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। भीड़ का तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने वाटर केनन का भी इस्तेमाल किया।

ये भी पढ़ें- स्कीम 78 में नाबालिग की चाकू से गोदकर हत्या

इसी बीच कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना है कि पुलिस द्वारा किए गए लाठीचार्ज में विधायक संजय शुक्ला को चोट लगी है, लेकिन सच तो ये है कि उन पर पुलिस ने कोई ने कोई लाठी नहीं चलाई है और। लोगों की संवेदनाएं लेने के लिए वह खुद को हल्की चोट लगाकर मीडिया के सामने आए।

दरअसल, मीडिया से बात करते समय संजय शुक्ला का झूठ खुद सामने आ गया। वह कह रहे हैं कि पुलिस ने उन्हें होंठ पर डंडा मारा, जिस्से उन्हें चोट लगी है। इतना ही नहीं, वीडियों में आप देख सकते है कि मीडिया से चर्चा करने के बाद वह कार्यकर्ताओं को देखकर किस तरह से हंस रहे हैं।

ये भी पढ़ें- ये कैसी दोस्ती! अपनी ही दोस्त के साथ तीन साथियों ने किया दुष्कर्म, बेसुध हालत में सड़क पर छोड़कर हुए फरार

इसके अलावा जीतू पटवारी का भी एक वीडियों सामने आया है, जिसमें पुलिस कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज कर रही है और वह बेरिकेट्स पर बैठकर सब कुछ देख रहे हैं। इसको लेकर सोशल मीडिया पर उनकी आलोचना भी हो रही है कि आप कैसे नेता हैं। आपका कार्यकर्ता मार खा रहा है और आप आराम से तमाशा देख रहे है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here