मां के साथ सो रही मासूम पर तेंदुए का हमला, नहीं बची जान

0
22

इंदौर: इंदौर में तेंदुए के हमले में 7 साल की बच्ची की मौत हो गई है। बच्ची रात को अपनी मां के साथ झोपड़ी के बाहर सो रही थी। तभी तेंदुआ मासूम की गर्दन को मुंह में दबाकर वहां से ले जाने लगा। बच्ची के चीखने पर परिवार नींद से उठा। पिता अपनी बच्ची को बचाने के लिए लाठी लेकर तेंदुएं से भिड़ गया लेकिन बच्ची को नहीं बचा सका।

ये भी पढ़ें- शराब के 20 रुपयों को लेकर विवाद, आदिवासी युवक को जमकर पीटा

घटना मंडल गांव में रात करीब दो बजे की है। 7 साल की रूबीना अपनी मां के साथ झोपड़ी के बाहर सो रही थी, तभी तेंदुए ने बच्ची पर हमला किया। वह बच्ची की गर्दन पकड़कर उसे अपने साथ ले जाने लगा। बच्ची के चिल्लाने पर उसके माता-पिता की नींद खुली। बेटी को बचाने के लिए बच्ची का पिता राजू लाठी लेकर तेंदुए के पीछे दौड़ा। शोर सुनकर गांव के लोग भी आ गए। ग्रामीणों ने पत्थर फेंककर बच्ची को बचाने की कोशिश की।

ये भी पढ़ें- सहकर्मी के साथ मिलकर महिला ने हनीट्रैप में फंसाया, फोटो वायरल करने की धमकी देकर मांगे पांच लाख रुपये

कुछ दूरी पर जाकर तेंदुआ बच्ची को छोड़कर जंगलों में चला गया। बच्ची का गला बुरी तरह जख्मी हो चुका था। ​​​​​​तेंदुए के दांत गले के अंदर तक जाने से बच्ची की सांस रुक गई। परिजनों को उसे अस्पताल ले जाने का मौका ही नहीं मिला। कुछ देर बाद उसकी वहीं मौत हो गई।

ये भी पढ़ें-  प्यार में धोखा मिला तो UPSC की छात्रा ने दे दी जान

बच्ची के माता-पिता गांव और जंगलों में मजदूरी करते हैं। इसके चलते जंगल में ही झोपड़ी बनाकर रहते हैं। वन विभाग के अनुसार घटना बुधवार रात 2 से 3 बजे के बीच की बताई जा रही है। वन विभाग ने बताया कि चोरल रेंज में तेंदुए के मूवमेंट होते रहते हैं, इसी दौरान कई बार हमले की घटनाएं सामने आती रही हैं।

 

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here