काम करने इंदौर आई आदिवासी युवती को बेचा, परिजनों को खबर दी तो किया गायब

0
7

इंदौर: इंदौर में चिप्स फैक्ट्री में काम करने आए आदिवासी युवती को बेचने का मामला सामने आया है। आरोपियों ने उसे बेचकर उसकी शादी करवा दी। युवती यहां एक युवक के संपर्क में आई थी, जिसके बाद उसे गिरोह ने अपने जाल में फंसा लिया। एक दिन पति से छिपकर युवती ने अपने परिवार को फोन कर पूरी बात बताई, जिसके बाद से उसका कुछ पता नहीं चल पा रहा है।

ये भी पढ़ें – दहेज नहीं लाने पर पति ने पार की अमानवीयता की सारी हदें, ढाई साल की बच्ची के साथ घर से निकाला

युवती धार की रहने वाली है और करीब 7 महीने पहले इंदौर आई थी। वह यहां द्वारकापुरी क्षेत्र में कमरा किराए पर लेकर रह रही थी। यहां उसकी मुलाकात बबलू से हुई। बबलू ने उसे अपने जाल में फंसा लिया और गिरोह के अन्य सदस्यों से मिलवाया। बबलू ने उससे कहा कि उसकी शादी अच्छे घर में हो जाएगी और उसकी मां इस बोझ से मुक्त हो जाएगी। युवती को इस बात का बिल्कुल भी अंदाजा नहीं था कि बबलू उसका सौदा दो लाख रुपये में सुरेश तिवारी से कर चुका है।

ये भी पढ़ें – प्लास्टिक फैक्ट्रियों में लगी भीषण आग, लगातार हो रहे धमाके

खुद को बेचे जाने का खुलासा उस समय हुआ जब झूठी शादी के बाद युवती ने अपनी मां को फोन कर पूरी घटना बताई। बहन ने बताया कि जब यूपी ने अपने पति सुरेश से परिजनों से मिलने जाने की बात कही तो उसने यह कहते हुए इनकार कर दिया कि यही उसका असली घर है यदि वह अपने परिजनों से मिलना चाहती है तो उन्हें यहीं बुला ले। सुरेश कुमार था कि परिजनों से मिलने के बहाने कहीं युवती भाग ना जाए।

ये भी पढ़ें – श्रद्धालुओं को शिर्डी ले जा रही बस हादसे का शिकार, 10 की मौत

एक दिन परिजनों ने युवती द्वारा दिए गए सुरेश के नंबर पर फोन किया तो उसने साफ शब्दों में कह दिया कि उसने युवती को दो लाख रुपयों में खरीदा है। यदि वह उसे वापस चाहते हैं तो दो लाख रुपये दे दे और उसे ले जाएं। परिजनों ने युवती का पता पूछा तो सुरेश ने अपना फोन बंद कर लिया जिसके बाद उन्होंने पुलिस में युवती की गुमशुदगी दर्ज कराई है। अप पुलिस युवती की तलाश कर रही है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here