पुलिस अफसर, मंत्री-सीएम के नाम पर साइबर ठगी, Whatsapp DP लगाकर मांग रहे रुपये

0
34

जयपुर: साइबर ठग इन दिनों सक्रिय है और अलग-अलग तरीकों से लोगों को निशाना बनाकर ठगी की वारदात कर रहे हैं। इन साइबर ठगों के हौंसले इतने बुलंद हो गए है कि ये अब IAS-IPS, मंत्री और मुख्यमंत्री के नाम से रुपये मानकर राजस्थान पुलिस को खुली चुनौती दे रहे हैं। असम, बंगाल, झारखंड और मध्यप्रदेश की आईडी से फर्जी मोबाइल नंबर के जरिए हाई प्रोफाइल लोगों से भी ठगी की जा रही है।

ये भी पढ़ें- नौकरी के नाम पर सब इंस्पेक्टर ने की 20 लाख की ठगी, थमाया फर्जी जॉइनिंग लेटर

साइबर ठग अनजान नंबरों से OTP लेकर whatsapp अकाउंट चला रहे हैं। इन अकाउंट पर IAS-IPS, मंत्री और मुख्यमंत्री की डीपी लगाकर उनके रिश्तेदारों से रुपयों की डिमांड की जा रही है। कई लोग झांसे में आकर रुपये भेज भी देते हैं। ठगों ने प्रदेश पुलिस के मुखिया डीजीपी एमएल लाठर, मुख्य सचिव ऊषा शर्मा सहित राजस्थान CM अशोक गहलोत की फेक डीपी लगाकर साइबर ठगी की कोशिश की।

ये भी पढ़ें-  बड़वाह के सिविल सर्जन ने इंदौर में लगाई फांसी, 13 माह की है बेटी

27 जुलाई को इन ठगों ने ACB के ADG सीनियर IPS दिनेश एमएन की फोटो लगाकर उनके परिचितों को वॉट्सऐप मैसेज भेजे। मैसेज में खुद को एक मीटिंग में व्यस्त होना बताकर रुपयों और गिफ्ट वाउचर के जरिए ठगी की कोशिश की। जब इसमें कामयाबी नहीं मिली तो इसी whatsapp अकाउंट पर ACB के DJ बीएल सोनी और फिर कैबिनेट मंत्री शांति धारीवाल की फोटो लगाकर ठगी की कोशिश की। इतना ही नहीं, सीएम गहलोत की फोटो लगाकर भी तीन लाख रुपये मांगे।

ये भी पढ़ें-  होटल में चल रहा था सेक्स रैकेट, दबिश देकर पुलिस ने 6 युवक-युवतियां गिरफ्तार

परिचितों से इस तरह की वारदात की जानकारी मिलने पर सभी अफसरों व मंत्रियों ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट और मैसेजों के जरिए सावधान रहने की अपील की है। वहीं, पुलिस ने भी लोगों को सावधान रहने की सलाह की दी है। साथ ही ऐसे मैसेज आने पर तुरंत सूचना देने के लिए कहा है। फिलहाल किसी भी अफसर या मंत्री की ओर से पुलिस में शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है।

 

 

 

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here