ना बैंड-बाजा, ना बारात, 500 रूपये में हो गई सेना के मेजर और डिप्टी कलेक्टर की शादी

0
2261

धार: सरकारी अफसरों की शादी (Goverment officers wedding) में अक्सर चमक-धमक और लंबा खर्च देखने को मिलता है लेकिन धार में दो अफसरों ने फिर सादगी की मिसाल पेश की है। यहां सेना के मेजर और डिप्टी कलेक्टर ने शादी की है, जिसका खर्च मात्र 500 रूपये आया है। शादी के बाद सब रजिस्ट्रार कार्यालय में शादी का रजिस्ट्रेशन भी कराया। इस शादी के दौरान दूल्हा-दुल्हन के परिजन और स्टाफकर्मी शामिल हुए।

ये भी पढ़ें- सादगी की मिसाल, मात्र 101 रूपये में शादी के बंधन में बंधे IAS प्रशांत नागर, दिल्ली से यूपी हो रही चर्चा

मूलरूप से भाेपाल की रहने वाली डिप्टी कलेक्टर शिवांगी जाेशी (Deputy collector Shivangi Joshi) का रिश्ता दो साल पहले भाेपाल में ही रहने वाले मेजर अनिकेत चतुर्वेदी (Major Aniket Chaturvedi) के साथ तय हुआ था। अनिकेत सेना में मेजर हैं और फिलहाल में लद्दाख (ladakh) में तैनात हैं। काेराेना के चलते शादी दाे साल से टल रही थी। इसके बाद शिवांगी और अनिकेत ने समाज में एक संदेश देने का निर्णय लिया।

shivangi joshi

ये भी पढ़ें- सैल्यूट आपको: बुजुर्ग महिला को गोद में उठा वैक्सीन लगवाने ले गया जवान

परिजनों की सहमती के बाद दोनों ने कोर्ट परिसर (court marriage) में महंगे इंतजाम से दूर रहकर सादगी से कोर्ट मैरिज कर शादी का रजिस्ट्रेशन कराया। धार में तैनात शिवांगी जाेशी ने बताया कि पिछले दो साल से कोरोना काल चल रहा है। ऐसे समय में काेराेना याेद्धा के रूप में सेवा देना जरूरी समझा। इस काल में हमने कई लाेगाें काे खाेया है। इस समय संक्रमण कम जरूर हुआ, लेकिन काेराेना अभी गया नहीं है। लाेग भी नियमाें का पालन करें।

ये भी पढ़ें- इंदौर से बनवाया कर्फ्यू पास, बांग्लादेश का सिम कार्ड, जयपुर जेल में संपर्क… लॉकडाउन में खपाई 20 किलो एमडी ड्रग्स

उन्होंने बताया कि सादगी से शादी करने का मकसद ये संदेश देना था कि लोग शादियाें में फिजूलखर्च न करें। मैं शुरुआत से फिजूलखर्च के खिलाफ हूं। शादी में फिजूलखर्च से न केवल लड़की के परिवार पर बोझ पड़ता है बल्कि पैसों का दुरुपयोग भी होता है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here