जब पैसे नहीं थे तो लॉक नहीं करना था कलेक्टर, डिप्टी कलेक्टर के घर चोरी करने पहुंचे चोर ने कागज पर छोड़ा यह संदेश

0
779

देवास से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है जिसमे खातेगांव एसडीएम त्रिलोचन सिंह गौड़ के सिविल लाइन स्थित सरकारी आवास में चोरी की बारदात सामने आई है।इस घटना में हँसी वाली बात यह है कि जब चोरों को उनकी उम्मीद के मुताबिक डिप्टी कलेक्टर के घर से कुछ नही मिला तो उन्होंने कलेक्टर के नाम एक नोट भी लिखा”जब पैसे नही थे तो लॉक नही करना था कलेक्टर”।

दरअसल शनिवार शाम को जब एसडीएम अपने देवास स्थित सरकारी आवास पर आए तो उन्होंने घर का ताला टूटा देखा। ज्यादा सामान नहीं मिलने से चोर बौखला गया और यह एक पत्र SDM के नाम छोड़ दिया।
दरअसल 15 दिनों पहले डिप्टी कलेक्टर त्रिलोचन सिंह गौड़ को खातेगांव का एसडीएम नियुक्त किया गया था। डिप्टी कलेक्टर का सरकारी आवास सांसद निवास के बिल्कुल पास है। पिछले 15 दिनों से आवास में ताला लगा हुआ था, इसी दौरान उसमें चोरी की वारदात हो गई। शनिवार को जब एसडीएम आवास में लौटे तो उन्होंने ताला टूटा देखा। जिसकी सूचना पुलिस को दी गई।

इसी दौरान कुर्सी पर उन्हीं की डायरी और पेन का उपयोग कर एक पन्ना मिला जिसमें यह नोट लिखा हुआ था।
चोर को उम्मीद थी कि सरकारी अधिकारी के आवास में उसे जमकर नगदी और ज्यूलरी मिलेगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ जिससे नाराज होकर उसने पत्र लिखा।

बहरहाल कोतवाली पुलिस ने एसडीएम की रिपोर्ट पर 30 हजार नगद, एक अंगूठी,चांदी की पायल और सिक्के चोरी होने की रिपोर्ट दर्ज की है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here